अल्मोड़ाक्राइमनवीनतम

बड़ी खबर : बुजुर्ग पर फेंका गया तेजाब, 21 दिन बाद एसटीएच में हुई मौत

ख़बर शेयर करें -

परिजनों का आरोप से दो सौ मीटर की दूरी पर अज्ञात ने डाला तेजाब, उपचार के दौरान सोमवार को बुजुर्ग ने तोड़ा दम, बहू की तहरीर पर पुलिस ने रविवार रात दर्ज किया था मुकदमा

अल्मोड़ा। जनपद के दन्या थाना क्षेत्र के अंडोली गांव में एक बुजुर्ग पर तेजाफ फेंकने का मामला सामने आया है। घटना के 22 दिन बाद बुजुर्ग की सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में मौत हो गई है। तेजाब फेंकने का आरोप परिजनों ने लगाया है। हालांकि, मृतक की बहू ने रविवार रात ही अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

पुलिस के मुताबिक अंडोली निवासी नीमा पांडे की ओर से रविवार को तहरीर मिली थी। नीमा पांडे का कहना था कि 22 अप्रैल को उनके ससुर लक्ष्मी दत्त पांडे उम्र 66 साल घर से बाहर थे। काफी देर रात होने तक वह घर नहीं लौटे। इस पर उन्होंने यहां-वहां देखा तो ससुर करीब 150 मीटर दूरी पर अचेत अवस्था में मिले। ससुर को घर लाकर देखा तो उनकी कमर के नीचे का हिस्सा जला हुआ था। किसी अज्ञात व्यक्ति ने उनके शरीर पर आग लगाई थी। आनन-फानन में उन्हें सुशीला तिवारी अस्पताल भर्ती कराया गया। सोमवार को बुजुर्ग ने एसटीएच में दम तोड़ दिया। बुजुर्ग के बेटे पूरन चंद्र के मुताबिक एसटीएच के डॉक्टरों ने बताया था उनके पिता के शरीर में तेजाब फेंका गया था। तेजाब प्राइवेट पार्ट्स के आसपास गिरने से उनकी मौत हो गई। वहीं, बहू की तहरीर पर पुलिस ने रविवार रात अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था।

रविवार को बुजुर्ग की बहू की ओर से तहरीर मिली थी। मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया था। बुजुर्ग की मौत होने की पुष्टि नहीं है। मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल पुलिस अज्ञात की तलाश में जुट गई है। विजय नेगी, थानाध्यक्ष दन्या

बीते दिनों जलने से संबंधित एक मामला आया था। मरीज को एसटीएच के बर्न वार्ड में भर्ती कराया गया था। मरीज कैमिकल से जला हुआ था। सोमवार शाम मरीज की मौत हो गई है। डॉ. अरुण जोशी, प्राचार्य मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी