Tuesday, February 27, 2024
चंपावतजनपद चम्पावतटनकपुरनवीनतम

टनकपुर : चार माह बाद छात्र धीरज जोशी सकुशल घर पहुंचा, परिजनों में खुशी का माहौल

ख़बर शेयर करें -

टनकपुर। गत 1 अप्रैल से लापता नवीं कक्षा का छात्र धीरज जोशी सकुशल घर पहुंच गया है। परिजन इसे ईश्वर का चत्कार मान रहे है और बच्चे के सकुशल घर लौटने पर बेहद प्रसन्न हैं। घर में उत्साह का सा माहौल है।

मालूम हो कि टनकपुर से लगे ग्राम बिचई निवासी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी दिवंगत पंडित पूर्णानंद जोशी का पौत्र और राज्य आंदोलनकारी गणेश जोशी का पुत्र धीरज जोशी 1 अप्रैल से घर से अचानक गुम हो गया था। 16 वर्षीय धीरज एनएचपीसी के केंद्रीय विद्यालय में 9वीं का छात्र है। परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की कोतवाली में तहरीर दी थी। परिजन, पुलिस टीम और जनप्रतिनिधि भी उसकी खोजबीन में जुटे हुए थे।


दिल्ली से सकुशल लौटने पर धीरज के पिता गणेश जोशी ने बताया कि इन चार माह में धीरज ने दोस्ती कर बिहार के तीन युवकों के साथ मुंबई से सूरत होकर दिल्ली तक किताबों को बेचकर गुजर बसर की। इस दौरान धीरज के साथ काम करने वाले एक युवक ने धीरज से परिजनों का मोबाइल नंबर लेकर उनसे बात की और धीरज के सकुशल होने की जानकारी दी। इस जानकारी के आधार पर गणेश जोशी, हरित सेवा समिति के अध्यक्ष कैलाश चंद्र भट्ट, रमेश पंत दिल्ली पहुंचे। जहां उन्हें धीरज सकुशल मिला और वे उसे वापस घर ले आए। धीरज के सकुशल मिलने पर परिजनों के साथ पुलिस ने भी राहत की सांस ली है। इधर धीरज के परिजनों ने धीरज के सकुशल पहुंचने की सूचना कोतवाली पुलिस को भी दे दी है।