Monday, February 26, 2024
उत्तर प्रदेशनवीनतमहादसा

अज्ञात वाहन की टक्कर से एम्बुलेंस के उड़े परखच्चे, वृद्धा और तीन बेटियों की मौत, चौथी की हालत गंभीर

ख़बर शेयर करें -

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के मोहनलालगंज-पुरवा मार्ग पर तुसरौर गांव के पास अज्ञात वाहन ने शव लेकर जा रही निजी एम्बुलेंस में टक्कर मार दी। हादसे में मृतक की पत्नी और उसकी तीन बेटियों की मौत हो गई। वहीं, चौथी बेटी की हालत गंभीर है। उसका कानपुर के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

हादसे की सूचना पर एसपी, एएसपी, सीओ सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। पंचनामा की कार्रवाई कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए हैं। टक्कर इतनी तेज थी कि एम्बुलेंस के परखच्चे उड़ गए। घटना के बाद एम्बुलेंस चालक भाग निकला। उसको पकड़ने के लिए टीमें लगी हैं। मौरावां थाना क्षेत्र के कस्बा निवासी धनीराम सविता (75) सेवानिवृत्त चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी थे। साल 2007 में वह केएनपीएन इंटर कॉलेज मौरावां से सेवानिवृत्त हुए थे। एक सप्ताह पहले पैरालिसिस का अटैक पड़ने और सांस लेने में दिक्कत होने से 24 जुलाई को परिजन जिला अस्पताल लेकर गए थे। वहां से कानपुर हैलट रेफर कर दिया गया था। शुक्रवार सुबह तीन बजे धनीराम की इलाज के दौरान मौत हो गई। परिजन प्राइवेट एम्बुलेंस से शव लेकर घर जा रहे थे। पुरवा-मोहनलालगंज मार्ग पर तुसरौर गांव के पास सुबह करीब पांच बजे अज्ञात वाहन ने एम्बुलेंस में टक्कर मारते हुए निकल गया। टक्कर इतनी तेज थी कि एम्बुलेंस के परखच्चे उड़ गए। घटना में मृतक धनीराम के शव के साथ रही उसकी पत्नी प्रेमा (65), बेटी अंजली (35), मंजुला (40) और रूबी (30) की मौत हो गई। वहीं, सुधा (40) गंभीर रूप से घायल है। सूचना पर एसपी सिद्धार्थशंकर मीणा, एएसपी शशिशेखर और सीओ दीपक सिंह घटनास्थल पर पहुंचे। जांच के बाद सभी शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए हैं। घायल सुधा को परिजनों ने कानपुर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। सीओ दीपक सिंह ने बताया कि मार्ग दुर्घटना में मृतक धनीराम की पत्नी और उसकी तीन बेटियों की मौत हुई है। चौथी बेटी घायल है। एम्बुलेंस के आसपास अन्य कोई भी पड़ा नहीं मिला है।