Tuesday, February 27, 2024
चंपावतजनपद चम्पावतहादसा

चम्पावत : खेतीखान क्षेत्र में खाई में गिरने से ग्रामीण की मौत, ग्रामीणों ने खराब सड़क व शासन प्रशासन को ठहराया हादसे का जिम्मेदार

ख़बर शेयर करें -

चम्पावत। जनपद के खेतीखान इलाके की ग्राम पंचायत जनकांडे क्षेत्र में सीलिंग लड़ी सड़क में शनिवार रात 9:00 बजे के लगभग लोहाघाट से अपने घर जा रहे लड़ीगांव निवासी 43 वर्षीय खीम सिंह सड़क से फिसल कर 150 मीटर गहरी खाई में जा गिरा। ग्रामीणों ने खाई में उतरकर उसे किसी तरह बाहर निकाला। गंभीर रूप से घायल खीम सिंह को उप जिला अस्पताल लोहाघाट पहुंचाया। तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। रविवार को पुलिस ने पंचनामा भरकर शव के पोस्टमार्टम की कार्यवाही की। वहीं ग्रामीणों ने हादसे के लिए शासन प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है। खीम सिंह की मौत से ग्रामीणों में काफी आक्रोश है।

जनकांडे की सीलिंग-लड़ी सड़क। इसी बदहाल सड़क से खाई में गिर कर हुई ग्रामीण की मौत।

पोस्टमार्टम हाउस में पहुंचे ग्राम प्रधान दीपक सिंह व ग्रामीणों ने बताया गांव की सड़क काफी बदहाल स्थिति में है। हादसे वाले स्थान में खाई में गिरने से अब तक चार ग्रामीणों की मौत हो चुकी है। ग्राम प्रधान ने कहा ग्रामीणों के द्वारा सड़क सुधारीकरण और डामरीकरण की मांग सीएम से लेकर डीएम तक की गई। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को भी समस्या बताई गई पर कहीं पर कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसका खामियाजा ग्रामीणों को अपनी जान देकर चुकाना पड़ रहा है। ग्राम प्रधान ने कहा सीएम पोर्टल में शिकायत की गई पर कोई संज्ञान नहीं लिया गया। वहीं सड़क सुधारीकरण और डामरीकरण की मांग को लेकर ग्रामीणों ने आज ग्राम प्रधान दीपक सिंह के नेतृत्व में पोस्टमार्टम हाउस के बाहर प्रदर्शन भी किया। प्रदर्शन में गांव की महिलाएं भी शामिल रहीं।

ग्रामीणों ने कहा कि चार मौतें होने के बाद भी शासन प्रशासन के द्वारा संज्ञान नहीं लिया जा रहा। अब गुहार भी लगाएं तो किसके पास जाकर लगाएं। सुध लेने वाला कोई नहीं है। ग्रामीणों ने कहा शायद शासन प्रशासन को अभी और मौतों का इंतजार है। ग्रामीणों ने इस दुर्घटना के लिए शासन प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है। वहीं इस घटना से ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। उन्होंने मृतक के परिजनों को मुआवजा देने तथा दुर्घटना वाले इलाके में रेलिंग लगाने तथा सड़क में जल्द डामरीकरण की मांग की गई। बताया कि मृतक के तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं। खीम सिंह की मौत से परिवार व गांव में कोहराम मचा हुआ है। प्रदर्शन करने वालों में पूर्व सूबेदार सुंदर सिंह, मनोहर देव, गुमान सिंह, किशन सिंह, दीवान सिंह, खीम सिंह, श्याम सिंह, प्रकाश सिंह, कमला देवी, अनीता देवी, गीता देवी, धना देवी सहित कई ग्रामीण शामिल रहे।