Monday, February 26, 2024
Latest:
उत्तराखण्डनवीनतमबागेश्वरराजनीति

बागेश्वर उप चुनाव : चंदनराम दास की पत्नी या बेटे पर दांव लगाएगी भाजपा, इन पांच नामों पर की गई चर्चा

ख़बर शेयर करें -

भाजपा बागेश्वर उपचुनाव में पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वर्गीय चंदनराम दास की पत्नी या बेटे पर दांव लगा सकती है। बृहस्पतिवार को चुनाव संचालन समिति ने संभावित पांच दावेदारों के नामों पर चर्चा के बाद जो तीन नाम छांटे हैं, उनमें दो नाम दास की पत्नी और बेटे का बताया जा रहा है।

प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट की अध्यक्षता में हुई बैठक में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक व महिला मोर्चा की आशा नौटियाल मौजूद थीं। सूत्रों के हवाले से आ रही खबरों के मुताबिक विधानसभा चुनाव प्रबंधन टोली ने राज्य संसदीय बोर्ड को पांच नाम भेजे जिनमें चंदन राम दास की पत्नी पार्वती दास, बेटा गौरव दास, पार्टी के वरिष्ठ नेता जेसी आर्य, दीपा आर्य व मथुरा प्रसाद के नाम शामिल हैं।

पार्टी पुरानी परंपरा के अनुसार, सहानुभूति का दांव चलेगी। पार्टी का भी चंदनराम दास की पत्नी को प्रत्याशी बनाए जाने पर जोर है। हालांकि उनके बेटे की मजबूत दावेदारी मानी जा रही है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक तीन नामों का पैनल तैयार कर इसे केंद्रीय संसदीय बोर्ड को भेज दिया जाएगा। माना जा रहा है कि संसदीय बोर्ड अगले दो दिनों में प्रत्याशी की घोषणा कर सकती है।

रिकॉर्ड मतों से जीतेगी भाजपाः भट्ट
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने कहा कि भाजपा बागेश्वर उपचुनाव में चम्पावत उपचुनाव की तर्ज पर पहले से अधिक रिकार्ड मतों से जीत दर्ज करेगी। बागेश्वर की जनता कांग्रेस की नकारात्मक राजनीति को दरकिनार कर अपने प्रिय नेता स्वर्गीय चंदन रामदास को ऐतिहासिक जीत के साथ श्रद्धांजलि देगी। पार्टी इस उपचुनाव की दो महीने से तैयारी में जुटी है। पहले ही शक्ति केंद्र और बूथ स्तर पर बैठकें हो चुकी हैं। मुख्यमंत्री धामी के कार्यक्रम और प्रदेश पदाधिकारियों के प्रवास वहां संपन्न हो चुके हैं। नामांकन को लेकर उन्होंने बताया कि केंद्र से नाम तय होने के साथ ही नामांकन की तारीख घोषित कर दी जाएगी।

बागेश्वर उप चुनाव : पहले दिन नहीं हुआ एक भी नामांकन
बागेश्वर विधानसभा उप चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। पहले दिन एक भी नामांकन होना तो दूर किसी प्रत्याशी ने नामांकन पत्र तक नहीं खरीदा। उप चुनाव के लिए 17 अगस्त तक नामांकन होंगे। 18 अगस्त को जांच और 21 अगस्त को नाम वापस लिए जा सकेंगे। पांच सितंबर को मतदान होगा। 8 सितंबर को मतणना होगी। उसी दिन दोपहर तक परिणाम घोषित हो जाएगा। जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराधा पाल ने आरओ कार्यालय का निरीक्षण किया। रिटर्निंग अधिकारी हरगिरि ने जिला निर्वाचन अधिकारी को व्यवस्थाओं की जानकारी दी। रिटर्निंग अधिकारी के कार्यालय में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। नामांकन प्रक्रिया को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा।