Monday, February 26, 2024
नवीनतम

द्वाराहाट विधायक पर इंजीनियरिंग कॉलेज निदेशक ने लगाया धमकाने व अभद्रता करने का आरोप, पुलिस को सौंपी तहरीर, रिपोर्ट दर्ज

ख़बर शेयर करें -

अल्मोड़ा जिले के द्वाराहाट विधायक मदन बिष्ट पर विपिन त्रिपाठी कुमाऊं प्रोद्यौगिकी संस्थान के निदेशक ने धमकाने व अभद्रता करने का आरोप लगाया है। आरोप है कि विधायक ने पहले निदेशक को फोन कर धमकाया। इसके बाद समर्थकों के साथ कॉलेज के आवासीय परिसर स्थित उनके आवास पर पहुंच कर गाली गलौज की। मामले में निदेशक ने पुलिस को तहरीर दी है। वहीं, विधायक व समर्थकों ने भी थाने पहुंचकर निदेशक पर प्रोटोकॉल के उल्लंघन का आरोप लगाया है। पुलिस ने द्वाराहाट से कांग्रेस विधायक मदन सिंह बिष्ट और उनके एक समर्थक के खिलाफ धारा 452, 427, 504 व 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। विधायक ने भी प्रभारी निदेशक के खिलाफ थाने में तहरीर दी है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इंजीनियरिंग कॉलेज निदेशक डॉ. केकेएस मेर ने रविवार को पुलिस को तहरीर सौंपी। तहरीर में कहा गया है कि शनिवार रात करीब साढ़े नौ बजे नारायण सिंह रावत नाम के व्यक्ति ने उन्हें फोन किया। कॉल में उनकी बात विधायक मदन सिंह बिष्ट से कराई। विधायक ने उनसे कार्यालयी कार्यों व टेंडर के संबंध में पूछताछ की। उन्होंने विधायक को सम्मान के साथ यथासंभव जानकारी दे दी। इसके बाद उनके दूसरे नंबर पर कई कॉल आए, जिन्हें उन्होंने रिसीव नहीं किया। इस पर रात करीब दस बजे विधायक अपने समर्थकों के साथ परिसर स्थित उनके आवास पहुंच गए। कॉल रिसीव नहीं करने की बात कहते हुए गाली गलौज करने लगे। नारायण सिंह रावत ने उन्हें घर से बाहर निकलकर विधायक से माफी मांगने को कहा। बाहर नहीं आने पर दरवाजे को जोर-जोर से पीटा गया। इससे घर में मौजूद उनकी पत्नी और बेटी में डर का माहौल पैदा हो गया। निदेशक ने पुलिस को ऑडियो और वीडियो देते हुए मामले में विधायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। वहीं, समर्थकों के साथ थाने पहुंचे विधायक ने निदेशक पर प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने का आरोप लगाया। उन्होंने भी निदेशक पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

उन्होंने तहरीर देकर बताया कि चैखुटिया से लौटने के बाद उन्होंने इंजीनियरिंग कॉलेज में कार्यरत मैस कर्मचारियों और वेतनभोगी कर्मचारियों के संबंध में अपने प्रतिनिधि नारायण रावत के मोबाइल से कॉल की। उन्होंने 6 बार अपने नंबर से निर्देशक को कॉल किया। लेकिन निर्देशक ने फोन नहीं उठाया गया। जब निर्देशक ने फोन उठाया तो अभद्र भाषा का प्रयोग करने लगे। उन्होंने निर्देशक पर भाजपा के इशारे पर मनमानी कार्य करने का आरोप लगाया। विधायक ने कहा कि 15 दिन के भीतर निर्देशक का स्थानांतरण नहीं किया गया तो इंजीनियरिंग कॉलेज के गेट पर समर्थकों के साथ धरना-प्रदर्शन व आमरण अनशन करेंगे। साथ ही इसे विशेषाधिकारी हनन मामले के तहत विधानसभा सत्र के दौरान सदन में उठाएंगे। थाना प्रभारी द्वाराहाट राजेश कुमार यादव ने बताया कि दोनों पक्षों से तहरीर प्राप्त हुई है। निर्देशक की तहरीर पर विधायक मदन सिंह विष्ट व नारायण रावल के खिलाफ धारा 452, 427, 504 व 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। साथ ही दूसरे पक्ष की तहरीर पर कार्यवाही की जा रही है।