Monday, February 26, 2024
Latest:
उत्तराखण्डउधमसिंह नगरनवीनतम

कुमाऊं : खुद पर रेप का आरोप लगवाकर बेटे ने बाप से ऐंठ लिए तीन लाख रुपये, इंस्टाग्राम से ऐसे खुला राज

ख़बर शेयर करें -

एक युवक ने खुद की दोस्त से खुद पर ही रेप का आरोप लगवाते हुए अपने पिता से तीन लाख रुपये ऐंठ लिए। सच्चाई का पता चलने पर पीड़ित ने पुत्र सहित चार लोगों पर केस दर्ज कराया है। मामला उत्तराखंड के रुद्रपुर की है। जहां एक युवक ने युवती और दो अन्य साथियों से मिलकर अपने पिता को ब्लैकमैल कर तीन लाख रुपये ऐंठ लिए। बेटे को रेप केस की बदनामी से बचाने के लिए पिता ने युवती को तीन लाख रुपये सौंप दिए। कई दिनों बाद पता चला कि ये उनके बेटे की ही साजिश थी। बेटे ने उस युवती और दो अन्य के साथ मिलकर उसे ब्लैकमेल किया था।

मलसा गिरधरपुर निवासी ताहिर खान ने इस मामले में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया था। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने पीड़ित के बेटे, युवती और दो अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया है। प्लान के तहत बीते पांच जून को प्रीत बिहार निवासी पूजा खत्री ने ताहिर खान को फोन किया था। पूजा ने ताहिर को बताया कि उनके पुत्र शोयेब खान ने उसे प्यार के जाल में फंसाकर उसके साथ रेप किया है। इसके कारण उसकी जिंदगी खराब हो गई है। ताहिर को धमकाया कि वह इस मामले में रेप का मुकदमा दर्ज कराने जा रही है। ताहिर को रेप के नाम पर डराने के बाद पूजा खत्री ने उससे पांच लाख की डिमांड रखी। चेताया कि यदि डिमांड पूरी नहीं हुई तो वह उसके बेटे के खिलाफ रेप का केस दर्ज करा देगी। ताहिर खान अगले दिन बेटे को बचाने के लिए रुद्रपुर कोर्ट में पूजा खत्री से मिला। आखिरकार उसने तीन लाख रुपये देकर राजीनामा करा लिया। तीन अलग-अलग तारीख पर उसने पूजा को तीन लाख रुपये दे दिए। जिसमें एक लाख रुपये देने की वीडियो और राजीनामा उसके पास है।

इंस्टाग्राम आईडी से खुल गया राज
घटना के कुछ दिन बाद ताहिर के बेटे शोयेब ने अपना फोन तोड़ दिया था। उसके बाद उसने अपनी मां सलमा जहां के फोन पर अपनी इंस्टाग्राम आईडी लॉगिन की। कुछ देर चेट करने के बाद शोयेब अपनी इंस्टाग्राम आईडी लॉग आउट करना भूल गया था। जब मां ने बेटे की इंस्टाग्राम आईडी चेक की तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। पता चला कि शोयेब और पूजा खत्री के बीच लगातार चैट हो रही है। इंस्टाग्राम में ही पिता को ब्लैकमेल करने के संबंधित प्लान भी चैट में मौजूद था।