Tuesday, February 27, 2024
चंपावतजनपद चम्पावतटनकपुरनवीनतम

सरकार की जनकल्याणकारी व महत्वाकांक्षी योजनाओं को जन जन तक पहुचाएं अधिकारी, डीएम नवनीत पांडेय ने टनकपुर में ली अधिकारियों की बैठक, संचालित योजनाओं की जानकारी ली

ख़बर शेयर करें -

टनकपुर। शुक्रवार को तहसील सभागार में जिलाधिकारी नवनीत पांडेय ने अधिकारियों के साथ बैठक कर क्षेत्र में संचालित विकास कार्यों तथा लंबित प्रकरणों की जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए। बैठक में विभागवार समीक्षा के दौरान विभिन्न अधिकारियों द्वारा अपने विभाग से संबंधित कार्यों व संचालित योजनाओं की जानकारी दी गई।

सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी ने अवगत कराया की टनकपुर में ऑटोमेटिक ड्राइविंग टेस्ट हेतु भूमि का चयन हो गया है। भूमि का प्रस्ताव वन विभाग को भेजा गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि भूमि स्वीकृति हेतु लगातार वन विभाग के नोडल व शासन स्तर पर सम्पर्क कर भूमि स्वीकृति कराएं। श्रम प्रवर्तन अधिकारी द्वारा विभागीय योजनाओं की जानकारी दी गई। साथ ही उन्होंने अवगत कराया की श्रम संनिर्माण कर्मकार योजना अंतर्गत जिले में 9336 श्रमिक पंजीकृत हैं। जिन्हें विभिन्न लाभ दिलाए जा रहे हैं। साथ ही श्रमिकों को पुत्री के विवाह हेतु 51 हजार तथा मृत्यु उपरांत 2 लाख 10 हजार की धनराशि तथा श्रमिकों के बच्चों को छात्रवृत्ति दी जा रही है। विभाग द्वारा जिले में 145 लोगों को विवाह उपरांत लगभग 73 लाख रुपए दिए गए हैं। जिलाधिकारी ने श्रम योगी मानधन योजना में प्रगति लाने के निर्देश श्रम प्रवर्तन अधिकारी को दिए। साथ ही जिलाधिकारी ने खंड विकास अधिकारी तथा श्रम प्रवर्तन अधिकारी को मनरेगा अंतर्गत 90 दिन कार्य करने वाले श्रमिकों को भी योजनाओं का लाभ दिये जाने तथा सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए।


जिलाधिकारी ने जल संस्थान को पूर्णागिरि क्षेत्र में क्षतिग्रस्त पेयजल लाइनों की मरम्मत का कार्य तथा जल जीवन मिशन के अवशेष कार्य को शीघ्र अति शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश सम्बन्धितों को दिए। जिलाधिकारी ने पेयजल निगम तथा जल संस्थान को संचालित कार्यों को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने आबकारी विभाग के निरीक्षक को निर्देश दिए की अधिकतम मूल्य पर शराब की दुकानों में शराब की बिक्री पर रोक लगाई जाए तथा चालान की कार्यवाही की जाए। नलकूप विभाग के अधिशासी अभियंता कवींद्र जोशी ने अवगत कराया की क्षेत्र में 39 नलकूप चालू स्थिति में हैं। साथ ही दो स्वीकृत है जिन पर कार्य किया जा रहा है।

सिंचाई विभाग से एसडीओ सिंचाई द्वारा संचालित बाढ़ सुरक्षा कार्यों के बारे में जानकारी दी गई। अधिशासी अधिकारी नगर पालिका टनकपुर तथा बनबसा द्वारा नगर पालिका/पंचायत क्षेत्र अंतर्गत संचालित कार्यों के बारे में जानकारी दी गई। जिलाधिकारी ने दोनों अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिए कि नगर क्षेत्र अंतर्गत सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए। घर-घर से सूखा तथा गीला कूड़ा अलग-अलग एकत्रित कर उसका सही निस्तारण किया जाए। साथ ही कूड़े का उठान नियमित रूप से हो। जिससे क्षेत्र में गन्दगी न हो पाए। उन्होंने कहा कि बनबसा क्षेत्र में काफी गन्दगी हो रही है। जिसके लिए जन सामान्य का सहयोग लेकर एक विशेष सफाई अभियान चलाकर सफाई करें तथा जल भराव की समस्या का समाधान सिंचाई विभाग तथा नगर पंचायत मिलकर करें।

जिलाधिकारी ने दोनों नगर निकाय के अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिए कि नगर में साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए, ताकि जनता में भी सफाई के प्रति अच्छा संदेश जाए। उन्होंने कहा कि मित्र राष्ट्र नेपाल से तथा देश के विभिन्न क्षेत्र से आने वाले यात्रियों के लिए बेहतर रेन बसेरा बनाया जाए। इस हेतु उप जिलाधिकारी टनकपुर के साथ समन्वय स्थापित कर भूमि का चयन करें। साथ ही टनकपुर में आयुर्वेदिक चिकित्सालय के निर्माण हेतु भूमि की अनापत्ति भी शीघ्र दिए जाने के निर्देश अधिशासी अधिकारी नगर पालिका टनकपुर को दिए। जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी टनकपुर को टनकपुर में बनने वाले सामुदायिक केंद्र को बहुउद्देशीय बनाने हेतु प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश भी दिए। अग्निशमन विभाग से आए प्रभारी द्वारा अवगत कराया गया कि क्षेत्र में फायर हाइड्रेंट बनाया जाना प्रस्तावित है। जिलाधिकारी ने कहा कि वह नलकूप विभाग के साथ समन्वय कर नल कूप के समीप 50 हजार लीटर क्षमता का टैंक निर्माण हेतु प्रस्ताव तैयार करें, ताकि अग्नि घटना होने पर इन टैंकों से जल आपूर्ति की जा सके। समाज कल्याण अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि क्षेत्र में समाज कल्याण विभाग द्वारा पांच कैंप लगाए गए हैं। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि समाज कल्याण विभाग द्वारा जितनी भी योजनाएं संचालित हैं उन सभी की जानकारी व योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्ति को अवश्य मिले। कोई भी व्यक्ति योजनाओं से वंचित ना रहे।

बैठक में जिलाधिकारी द्वारा खंड विकास अधिकारी से मनरेगा के कार्यो के संबंध में जानकारी ली गई तथा आवश्यक निर्देश दिए गए। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा क्षेत्र में संचालित आंगनबाड़ी केंद्रों के संबंध में जानकारी दी गई। इस पर जिलाधिकारी ने विभाग को निर्देशित किया कि सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को और अधिक सक्रिय कर पात्र लाभार्थियों को योजनाओं का लाभ दिलाया जाए। जो भी आंगनबाड़ी केंद्र का निर्माण होना है व शीघ्र कराया जाए। किराए के भवन में चल रहे आंगनबाड़ी केंद्रों को प्राथमिक विद्यालय परिसर में खोला जाए तथा जिन आंगनबाड़ी भवनों का निर्माण किया जाना है, उनके प्रस्ताव शीघ्र लेकर शासन को प्रेषित करें।
मुख्य चिकित्सा अधीक्षक उप जिला चिकित्सालय टनकपुर घनश्याम तिवारी द्वारा टनकपुर उप जिला चिकित्सालय में स्वास्थ्य सुविधाओं के बारे में जानकारी दी गई।

खंड शिक्षा अधिकारी भरत जोशी द्वारा विकासखंड अंतर्गत संचालित विद्यालयों, अध्यापकों की वर्तमान तैनाती व शिक्षण व्यवस्था के बारे में जानकारी दी गई। एनएचएआई से आये अधिकारी को जिलाधिकारी ने जगबुड़ा पुल से टनकपुर तक एनएच में स्ट्रीट लाइट लगाने हेतु प्रस्ताव तैयार कर शीघ्र कार्य कराए जाने के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह जनता की समस्याओं को प्राथमिकता से लें व प्राथमिकता से ही समस्याओं को निस्तारित करते हुए सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ जनता तक पहुंचाएं। साथ ही विभाग द्वारा जो भी लक्ष्य दिए गए है उन्हें भी समयबद्ध रहते हए पूर्ण करें।

क्षेत्रीय प्रबंधक रोडवेज द्वारा जिलाधिकारी को रोडवेज कार्यशाला में जल भराव की समस्या से अवगत कराया गया। उन्होंने कहा कि एनएचएआई के सड़क के निर्माण के कारण जल भराव की स्थिति उत्पन्न हो रही है। इस संबंध में जिलाधिकारी ने एनएचएआई से आए अधिकारी की इसके स्थाई समाधान हेतु कार्यवाही करने तथा शीघ्र बंद कलमठ व नालियों को खोले जाने हेतु निर्देशित किया। साथ ही जिलाधिकारी ने क्षेत्रीय प्रबंधक, एनएचएआई तथा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका टनकपुर को संयुक्त निरीक्षण कर समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए। बैठक में जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि क्षेत्र में विद्युत विभाग की जो भी समस्या है, चाहे वह लो वोल्टेज की हो या अन्य कोई समस्या हो उस संबंध में प्रस्ताव प्रस्तुत करें ताकि उन्हें शासन को भेजकर धनराशि स्वीकृत कराई जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि बनबसा से अलग विद्युत फीडर निर्माण हेतु जो भी प्रस्ताव भेजे गए हैं उन्हें उपलब्ध कराएं ताकि उसमे अग्रिम कार्यवाही की जाए।

बैठक से पूर्व तहसील टनकपुर आगमन पर जिलाधिकारी ने तहसील के समस्त पटलों व पंजिकाओं का निरीक्षण कर आवश्यक जानकारी उपजिलाधिकारी टनकपुर से ली तथा तहसील के कर्मचारियों को आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में सशस्त्र सीमा बल के कमांडेंट मनोहर, उप जिला अधिकारी टनकपुर आकाश जोशी, एनएचपीसी के महाप्रबंधक, पुलिस क्षेत्राधिकारी अविनाश वर्मा, खंड शिक्षा अधिकारी भरत जोशी, एआरटीओ सुरेंद्र कुमार, तहसीलदार पिंकी आर्या, जिला समाज कल्याण अधिकारी आरएस सामंत सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।